gym me jada workout krne se ho sakte hain ye nuksaan
HEALTH A-Z

जिम में ज्यादा वर्कआउट करने से हो सकते हैं ये 6 नुकसान

इस भागती दौड़ती हुई ज़िन्दगी में ये एक ऐसी परेशानी है जो हर दुसरे व्यक्ति में दिखती है, वह है अधिक वजन होना। और ये आज के समय में एक बहुत बड़ा मुद्दा बन चुका है जिसको लेके सभी लोग सतर्क हो रहे हैं और अपने आपको फिट रखने के लिए अपनी बिज़ी ज़िन्दगी में से कुछ समय जिम में वर्कआउट (शारीरिक मेहनत) करते हैं ताकि वह फिट रह सकें। इसको हम एक तरह की पहल कहे सकते हैं की सभी लोग अपनी सेहत को लेकर जागरूक हो रहे हैं।

अगर किसी को अपना वजन कम करना है तो इसका इलाज भी सिर्फ एक ही है जो है शारीरिक मेहनत करना। फिर चाहे लोग कितने ही नुस्खे अपना ले, लेकिन वर्कआउट करना ही इसका सबसे कारगर उपाय है। वर्कआउट का मतलब ये नहीं की जिम में जाके ही वर्कआउट कर सकते हैं बल्कि आप बिना जिम जाये भी अपना वजन कम कर सकते हैं जैसे की खाली समय में टहलना, योग करना, वेट ट्रेनिंग व प्राणायाम करना। तो अगर आप वेट ट्रेनिंग यानी जिम को तरजीह देते हैं तो कुछ जरूरी बातें जान लें। क्योंकि अकसर देखा गया है कि जिम में व्यायाम करने के शुरुआती दौर में नए लोग अक्सर कई सारी गलतियां कर बैठते हैं, जिनसे उनके मसल्स विकसित नहीं होते और गंभीर चोट का शिकार हो जाते हैं।

 

तो चलिए जानते हैं की जिम में ज्यादा वर्कआउट करने से क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं-

 

1. पर्याप्त नींद ना आना:

 

जब कोई भी व्यक्ति अपने जिम करने के शुरुआती दौर में बहुत ज्यादा वर्कआउट करता है जो की उसके शरीर के लिए अच्छा नहीं होता है। इससे आपका शरीर इतना अकड़ जाता है की आपको पूरी तरह अच्छी और आराम दायक नींद नहीं आ पाती। वही दिन में एक्टिव रहने के लिए आपको रात में अच्छी नींद लेना बहुत जरुरी होता है। लेकिन अगर आप ज्यादा वर्कआउट कर रहे हैं तो इसकी वजह से शरीर में बेचैनी, थकान, नींद नहीं आना या ज्यादा आना जैसी परेशानियाँ हो सकती हैं लेकिन जब आप इसे कम कर देते हैं तो आपकी नींद सामान्य होने लगती है। इसलिए वर्कआउट इतना करे की शरीर को तनाव महसूस न हो और आप सही नींद भी ले पाएं।

 

2. व्यायाम कम कर पाना:

 

व्यायाम कम कर पाने का अर्थ ये है की जब व्यक्ति रोज़ाना अपनी लिमिट से ज़ादा वर्कआउट करता है तो एक समय बाद उसका शरीर इस बोझ को झेलने में सक्षम नहीं रह पाता और तनाव व थकान के कारण उसका व्यायाम करने में मन नहीं लगता। एक और बात यदि आप लगातार वर्कआउट कर भी रहे हैं तो ध्यान दें कि आपका परफॉर्मेंस सुधरा है या वैसा ही है। और यदि आपको पहले से ज्यादा थकान हो रही है तो हो सकता है कि आप ज्यादा कर रहे हैं। इसलिए जब भी वर्कआउट करें तो क्वालिटी पर ध्यान दें न कि क्वान्टिटी पर। आप यदि सोचते हैं कि सिर्फ ज्यादा व्यायाम करना ही फायदेमंद है तो आप गलत हैं। व्यायाम को भी एक लिमिट में ही किया जाना चाहिए।

 

3. सांस फूलना:

 

अगर किसी व्यक्ति की एक्सरसाइज़ के दौरान सांस फूलती है तो यह आम बात है लेकिन जब आप वर्कआउट नहीं कर रहे हैं तब भी ऐसा होता है तो समझ जाएं की आप जिम में ज्यादा वर्कआउट कर रहे हैं। यदि आप रुक जाते हैं या एक विराम ले लेते हैं तो यह 60 सेकंड में ठीक हो जाता है। यदि आपको सांस आने में तब भी समय लग रहा है तो इसका मतलब है कि आपने वर्कआउट ज्यादा हार्ड किया है। ऐसी स्थिति में ठीक होने में थोड़ा समय लगता है लेकिन शरीर सामान्य काम करता है। फिर भी यदि आपको पैरों में सूजन, तेज बुखार, खांसी, सर्दी लगना, अंगुलियों का नीला पड़ना और घबराहट होती है तो आपको तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए ये हार्ट अटैक के लक्षण भी हो सकते हैं।

 

4. हड्डियों में कमजोरी आना:

 

आजकल के युवा अच्छा और फिट दिखना चाहते हैं जिसके लिए वह जल्दी से जल्दी बॉडी बनाना चाहते हैं, जिसके लिए वह जिम में जरुरुआत से ज्यादा समय व्यायाम करते हैं। जिस कारण हड्डियों पर दबाव पड़ता हैं और हड्डियाँ कमजोर होने लगती हैं। और बढ़ती उम्र के साथ हड्डियों में दर्द भी होना शुरू हो जाता है। इसके आलावा गठिया रोग होने की भी सम्भावना बढ़ जाती है। और तो और ज्यादा कसरत करने के कारण खून का दबाव भी बढ़ जाता है जिसके कारण दिल की बीमारी का भी खरतरा बढ़ जाता है।

 

5. शरीर में खाद्य पदार्थों की कमी होना:

 

ज्यादा कसरत करने से आपके शरीर में प्रोटीन व अन्य खाद्य पदार्थ की कमी हो सकती है जो की एक अच्छा संकेत नहीं है।क्योंकि जब आप ज्यादा कसरत करते हैं तो उससे आपका शरीर प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फैट, आयरन, कैल्शियम आदि की ज्यादा खपत करने लगता है जिससे इन सब पदार्थों की शरीर में कमी होने लगती है। जिसकी वजह से शरीर में कमजोरी आने लगती है और जिम में वर्कआउट करने का मन कम करता। इसलिए जब भी वर्कआउट करें तो जिम ट्रेनर से हमेशा एक डाइट चार्ट जरूर बनवाये अपनी सेहत के मुताबिक। ताकि आपके शरीर को वो सभी पदार्थ नियमित मात्रा में मिल सकें और आप पूरी तरह नियमित तौर पे वर्कआउट कर पाए।

 

6. नियमों का पालन ना करना:

 

जैसे हम नियमों का हमेशा पालन करते है वैसे ही जब आप जिम करते हैं तो उसमे भी कुछ नियम होते हैं जिनका सभी को पालन करना चाहिए। इससे आप जो मेहनत करते हैं उसका अच्छा परिणाम मिलता है और नियम अनुसार जिम में वर्कआउट करने से आप अपनी मनचाही बॉडी बना पाते है। इसलिए सबसे पहले आपको जिम में जाके, जिम में लगी सभी मशीनों के बारे में पाता करना चाहिए। जिम जाने के बाद में हमेशा नहाना चाहिए इससे आपका शरीर हमेशा चुस्त रहता है।

Related posts

Leave a Comment