HEALTH A-Z

क्या सेफ है इयरफोन लगाकर म्यूजिक सुनते हुए सो जाना ? यहां जानें

आपने अक्सर देखा होगा लोगो को कानो में इयरफोन लगा कर सोते हुए । म्यूजिक सुनना हर किसी को पसंद है और यह फायदेमंद भी है ।
पर क्या यह सेफ है इयरफोन लगा कर म्यूजिक सुनते हुए सो जाना ? सोते वक़्त अक्सर लोग लाइट म्यूजिक सुनना पसंद करते है इससे वो रिलैक्स फील करते है जीसे की उन्हें अच्छी नींद आती है। जब कोई गण (सॉन्ग) आपका फेवरिट होता है तो आप उसे दिन में बहुत बार सुनते है और ऐसा भी होता होगा की आप गाना (सॉन्ग) सुनते-सुनते ही सो जाते होंगे। कई लोगो की तो आदते होती है म्यूजिक सुनकर सोने की ।
पर क्या ये आदत सेफ है ? यहां जाने ऐसा करना सेफ है या नहीं।

अब तो मरीजों को म्यूजिक के जरिये ऑल्टरनेट ट्रीटमेंट देने की भी कोशिश की जा रही है । इससे माइंड फ्रेश रहता है । पर रात को सोते वक़्त इयरफोन लगा कर म्यूजिक सुनना इससे हो सकता है खतरा ।

 

इयरफोन लगा कर सोना खतरनाक होता है?

सोते हुए इयरफोन लगा कर सोना आपके लिए यह बहुत हानिकारक साबित हो सकता है। ऐसा नहीं कहा जा रहा की ये जानलेवा है, पर आपको इससे एक बहुत अच्छी नींद के साथ समझौता करना पड़ सकता है। जो की हमारे सेहत के लिए बिलकुल भी अच्छा नहीं है। इससे हमें बहुत साडी नुक्सान हो सकती है। बहुत समय पहले से ये कहा जा रहा है की म्यूजिक की सूदिंग यानि की आराम देने वाली क़्वालिटी अच्छे नींद के लिए मददगार होती है। पर हमारे शरीर की अपनी एक घड़ी होती है, जिसे सरकेडियम रीदम भी कहा जाता है, जिसे हम भूल जाते है की इसे फॉलो भी करना होता है। इसे भूलना हमारे लिए बहुत नुकसानदेह हो सकता है क्योंकि हम अपने बॉडी को पूरी तरह किसी और साउंड पर निर्भर कर देते है। अगर आप नियमित रूप से सोते समय आर्टिफीसियल साउंड सुन कर सोने की आदते डाल रहे है तो ये आपके लिए बहुत हानिकारक है और साथ ही साथ सेहत के लिए भी अच्छा नहीं है। इससे हमरे कानो (ईयर) पर बहुत असर पड़ता है। कानो में दर्द, सुनाई ना देने की भी समस्या होने लगती है।

 

म्यूजिक सुनते वक़्त एक्टिव मोड पर रहता है ब्रेन-

म्यूजिक सुनने से हमारी नींद पर इसलिए भी प्रभावित पड़ता है क्योंकि, म्यूजिक सुनते वक़्त हमारा फ़ोन हमारे पास रहता है । यहां तक की आराम करते समय और सोने के वक़्त भी हमारा फ़ोन हमारे पास ही रहता है। इस वजह से हमारा ब्रेन रेस्ट नहीं हो पता और सोते समय भी एक्टिव मोड पर रहता है और उसे आराम नहीं मिल पता।

 

कान को भी नुक्सान –

जब आप सोते वक़्त म्यूजिक सुनते है तब आपका ब्रेन पूरी तरह नहीं सो पता। इसके कुछ पार्ट एक्टिव ही रहते है जिससे की नींद नहीं आती और बीच रात में ही नींद खुल जाती है।  8 घंटे की नींद पूरी होनी चाहिए जो की इस वजह से पूरी नहीं हो पति और आपकी हार्टबीट भी नॉमल की तुलना में काफी तेज़ हो जाती है जो की सेहत के लिए बहुत नुकसानदेह है।

सोते वक़्त इयरफोन लगे रहने से आपका कान डैमेज हो सकता है। इससे कानो पर बहुत असर पड़ता है। अगर हाई वॉल्यूम में म्यूजिक चलाकर सो गए तो बॉडी में और भी हार्मफुल इफेक्ट्स हो सकते है। इयरफोन लगा कर सोने से स्किन प्रॉब्लम जैसी समस्या भी होने लगती है।
हाई वॉल्यूम से स्किन पर प्रेशर पड़ता है। इससे कानो में वैक्स भी बनता है और सुनने की क्षमता भी प्रभावित हो सकती है। और इयरफोन सोते समय लगा कर सोने से बहरेपन की भी शिकायत होती है। हाई वॉल्यूम की वजह से कानो में दर्द भी होने लगती है।

रात को सोते वक़्त इयरफोन से निकलने वाली तरंगे दिमाग को बहुत नुक्सान पहुँचती है । इससे दिमाग पर बहुत असर पड़ता है। रात को इयरफोन लगा कर सोने से सर में भी दर्द होने लगता है।

 

तो क्या म्यूजिक सुनना बंद कर देना चाहिए –

हर रात सेफ और अच्छी नींद सोना हर इंसान की प्राथमिकता होनी चाहिए । अगर आपको म्यूजिक सुनकर सोने कीआदत है तो म्यूजिक जरूर सुने पर इयरफोन लगा कर न सोये जिससे की आप हैल्दी रहो और किसी भी तरह का आपको नुक्सान न हो। अच्छी नींद के लिए सोते वक़्त फ़ोन को खुद से दूर रखे और रेडियो पर म्यूजिक सुने लाइट वॉल्यूम में । ऐसा करने से आपकी बॉडी का नेचुरल स्लीपिंग पैटर्न प्रभावित नहीं होगा। पर हमें ये भी याद रखना जरूरी है की म्यूजिक से हमें बहुत अच्छी नींद तो आ सकती है पर कभी भी गहरी नींद नहीं। म्यूजिक सुने पर सोते वक़्त इयरफोन लगा कर सोने की आदत न डाले और हाई वॉल्यूम में गाने भी ना सुने ।ये हमारे लिए नुकसानदेह हो सकता।इसलिए सोने के लिए पीसफुल रिलैक्सिंग म्यूजिक पर निर्भर न रहे, बल्कि ऐसी लाइफस्टाइल और आदते चुने जिससे की रात को आप गहरी
और बहुत अच्छी नींद में आ सके। और इन साड़ी परेशानियों से बचे ।

 

conclusion :

म्यूजिक सुनना  इसे सिर्फ शौक के रूप में देखा गया है । लेकिन दुनिया में बहुत तरह के शोधो का दवा है की म्यूजिक कई समस्याओं का सफल इलाज़ हो सकता है। इसलिए म्यूजिक सुनना तो बहुत अच्छी बात है पर रात को सोते वक़्त इयरफोन लगाकर सोना ये हमारे सेहत के लिए अच्छा नहीं। इसलिए सोते वक़्त इयरफोन का इस्तेमाल न करे। और म्यूजिक पर सोने के लिए निर्भर ना रहे ।

Related posts

Leave a Comment